Nana Patekar Dialogue Lyrics | All Superhit Comedy Nana Patekar Dialogues

Share this post

नाना पाटेक के डायलॉग अगर आप भी Nana patekar dialogues, nana patekar comedy famous superhit dialogues, Nana patekar dialogue lyrics ढूंढ रहे हो तो आपकी खोज यहाँ पर खत्म होती है आज हम आपको नाना पाटेकर के सभी मूवीज के डायलॉग की लिस्ट देने वाले है|

आईये दोस्तो आपका स्वागत है sohohindi.in ब्लॉग मे! आज के इस पोस्ट मे हम आपको nana patekar dialogues लिस्ट देने वाले है नाना पाटेकर के आल सुपर हिट डायलॉग हिंदी मे|

यहाँ पर आपको nana patekar के dialogues  मिल जायेगे यहां पर आपको नाना पाटेकर के Comedy, famous, action, superhit dialogues, Krantiveer Nana Patekar dialogues, Welcome movie Nana Patekar dialogues, Welcome Back movie Nana Patekar dialogues, Tiranga movie nana patekar dialogues और भी नाना पाटेकर की सभी मूवीज के डायलॉग यहां पर dialogues list मे अवेलेबल है|

Nana Patekar Dialogue Lyrics

Tiranga movie nana patekar dialogues 

यह तो लाल मिर्च है तीखी तीखी, हाथ लगाओ तो हाथ जले, मूह लगाओ तोह मूह जले, दिल लगाओ तोह दिल जले|

तुझे ऐसी मौत मारूंगा की तेरी पापी आत्मा अगले सात जनम तक, किसी दूसरे शरीर में घुसने के पहले कांप उठेगी|

अपना तो उसूल है, पहले लात, फिर बात, उसके बाद मुलाक़ात|

सच्चे पुलिस की या तो मौत होती है, या तो ससपेंड किया जाता है|

Krantiveer movie nana patekar dialogues

साले अपने खुद के देश में एक सुई नहीं बना सकते,  और हमारा देश तोड़ने का सपना देखते हैं|

ऊपर वाला भी ऊपर से देखता होगा तो उसे शर्म आती होगी, सोचता होगा मैंने सबसे खूबसूरत चीज बनायीं थी, इंसान,  नीचे देखा तोह सब कीड़े बन गए कीड़े|

आ गए मेरी मौत का तमाशा देखने|

तुम्हारे नापाक कदम आगे मत बढ़ाओ, तोड़कर तुम्हारे गले में पहना देंगे|

यह मुसलमान का खून ये हिन्दू का खून बता इसमें मुसलमानों का कौनसा हिंदू का कौन सा बता|

हम भले ही ऊपर वाले को अलग अलग नाम से पुकारते है| लेकिन हमारा धर्म एक है मजहब एक है  इंसानियत|

कुत्ते की तरह जीने की आदत पड़ी है सबको|

Nana Patekar Dialogues Shayari

Welcome back movie nana patekar dialogues 

बीवी भी एक अजीब तरह की पहली है, साल भर मिया को परेशान करके जीने नहीं देती, और करवा चौथ का व्रत रख के मरने नहीं देती|

भगवान का दिया हुआ सब कुछ है दौलत है, शौहरत है, इज़्ज़त है|

Welcome movie nana patekar dialogues 

यह शरीफ लोग बहुत बदमाश होते है, शराफत की जुबान नहीं समझते है|

देखिये भगवान् का दिया हुआ सब कुछ है, दौलत है, शौरत है, इज़्ज़त है इतना रूदवा है इस शेहेर मैं की किसीके घर मैं भी रिश्ता बनाना चाहु तो कोई ना  नहीं केह सकता|

आज कल तो बिस्कुट को भी परले G कहते है आप तो डॉक्टर है, इतने नेक काम करते है|

Ab tak chhappan nana patekar dialogues

तुम लोग सोसाइटी का कचरा है, मैं सोसायटी का जमादार|

Ab tak chhappan 2 movie nana patekar movie dialogues 

ऊपर वाले ने इंसान के शरीर में नौ छेद किये है, दो कान के, दो नाक के, दो आँख के, एक मूह का,  बाकी के दो तू जानता है, सपने में भी गलत सोचा न, दुस्वा छेड़ कर दूंगा|

गांधी की जब तक दीवार पर थे हमने हार पहनाए, नोट पर आ गए, हमने जेब में डाल लिए|

फाॅर्स किसी के बाप की जागीर नहीं है, फाॅर्स की अपनी एक डिग्निटी है, इस डिग्निटी को बरकरार रखना हमारी जिम्मेदारी है|

Nana Patekar Dialogues

Yeshwant movie nana patekar dialogues 

एक मच्छर,एक मच्छर साला आदमी को हिजड़ा बना देता है, एक खटमल पूरी रात को अपाहिज कर देता है|

यह मेरा पसीना नहीं मेरा खून है जो पानी बनकर बहता है मेरे बदन से|

गिरो सालो गिरो, लेकिन गिरो तो उस झरने की तरह, जोह पर्बत की ऊँचाई से गिरके भी अपनी सुंदरता खोने नहीं देता, जमीन के तेह से मिलके भी अपने अस्तित्व को नॉर्थ नहीं होने देता|

Ghulam e musthafa movie nana patekar dialogues 

मौत से बढ़कर कोई दोस्त नहीं है, हमेशा मेरे साथ चलती है|

जान मत मांगना इसकी बाजार में कोई कीमत नहीं है|

एक मंदिर का दिया भी तेरे को तवायफ के कोठे की लाल बत्ती लगता है|

उसने रुलाया है,  वही हसायेगा|

Blufmaster movie nana patekar dialogues 

दुनिया में सबसे ज्यादा रिस्पेक्ट करता हूँ मैं अपनी,  आरती उतारता हूँ रोज़ खुद की|

भाई मत बोल,  इमोशनल हो जाता हूँ मैं|

पांच दस पंद्रह करोड़ पैसे की कोई फिक्र नहीं है, इमेज इमेज का फालूदा कर दिया, वाट लगायी तूने|

Nana patekar Yatra movie dialogues 

ज़िन्दगी के एक मोड़ पर जाकर लोग अक्सर यही सोचते है काश, ज़िन्दगी फिर से जीने मिल जाती|

यादें अंत में किसका हाथ पकड़कर जाती है मालूम?  मौत का|

Wajood movie nana patekar dialogues 

कैसे बताऊ मैं तुम्हे मेरे लिए तुम कौन हो …
कैसे बताऊं मैं तुम्हे तुम धड़कनों का गीत हो,
जीवन का तुम संगीत हो, तुम ज़िन्दगी,
तुम बंदगी, तुम रोशनी, तुम ताज़गी,
तुम हर खुशी, तुम प्यार हो, तुम प्रीत हो,
मनमीत हो, आँखों में तुम, यादों में तुम,
साँसों में तुम, आहों में तुम, नींदों में
तुम ख्वाबों में तुम, तुम हो मेरी हर बात में,
तुम हो मेरे दिन रात में, तुम सुबह में,
तुम श्याम में, तुम सोच में, तुम काम में,
मेरे लिए पाना भी तुम, मेरे लिए खोना भी तुम,
मेरे लिए हसना भी तुम, मेरे लिए रोना भी तुम,
और जागना सोना भी तुम जाऊं कहीं,
देखो कहीं, तुम हो वहाँ, तुम हो वहीँ,
कैसे बताऊं मैं तुम्हे तुम बिन तोह मैं कुछ भी नहीं,  कैसे बताऊ मैं तुम्हे मेरे लिए तुम कौन हो|

डेस्टिनी बहुत बेरहम होती है, यह अपने दोस्तों से मुंह फेरने पर और दुश्मनों से बात करने पर मजबूर कर देती है|

Nana Patekar Comedy Dialogues

Parinda movie nana patekar dialogues 

धंधे में कोई किसी का भाई नहीं, कोई किसी का बेटा नहीं|

यह दुःख नाम की बीमारी का इलाज किसी डॉक्टर के पास भी नहीं, इसका इलाज खुद ढूंढना पड़ता है, दुःख को भूलना पड़ता है|

अपने साथ काम करना है तोह उससे इम्तिहान में तोह बैठना ही पड़ेगा|

Agni sakshi movie nana patekar  dialogues 

दुनिया बहुत छोटी है, यहाँ कोई ऐसी जगह नहीं, जहाँ तुम मुझसे चुप सको|

ज़ख्म मैंने दिए है मरहम भी मैं ही लगाउंगा|

Raju ban gaya gentleman movie nana patekar dialogues 

इस बम्बई शहर में झगड़ा करने से सर फूटे न फूटे लेकिन मोहब्बत करने से दिल टूटने का गारंटी|

संडे के बाद मंडे, रुपये के चार अंडे, खाये किसी और ने डंडे, अब राज कर रहे है मुश्तंडे|

Nana patekar wedding anniversary movie dialogue

ज़िन्दगी का हर पल आखिरी समझकर जीना चाहिए, तब ज़िन्दगी का असली मज़ा आता है|

Hum dono movie nana patekar dialogue

कमबख्त यह नींद की गोली सुला तो देती है, लेकिन लोरी नहीं सुनती|

Hu tu tu movie nana patekar dialogues

पिछले पचास सालों में हमारे देश ने सिर्फ मंत्री और मिनिस्टर पैदा किये है, एक नेता पैदा नहीं किया|

Nana patekar Pratighaat movie dialogue

जिस देश को हमारे बुजुर्गों ने अपने प्राणों की आहुति देकर आज़ाद कराया, उसी देश में इन कायरों की फौज पल रही है|

Nana patekar Tarkieb movie dialogue 

हमरे बाद महफ़िल में अफ़साने बयान होंगे, बहरें हुमको ढूंढेंगी, न जाने हम कहाँ होंगे|

Nana patekar Kohram movie dialogue

इस देश के गद्दारों को अंजाम तक पहुंचाना, यही मेरी ज़िंदगी का मक़सद है

दोस्तो अगर आपको ये नाना पाटेकर के डायलॉग की लिस्ट पसंद आयी है तो इसे अपने दोस्तो के साथ share करें|

Share this post

Leave a Comment